>

टेस्ट सीरीज के दौरान छुट्टी लेना "पड़ सकता है भारी" : सुनील गावस्कर

By:
MD IMRAN 06/08/2018

नई दिल्ली :भारतीय क्रिकेट के पूर्व महान खिलाडी सुनील गावस्कर  ने बर्मिंगम टेस्ट मैच इंग्लैंड के हाथ गवाने के बाद टीम की तैयारियों पर सवाल उठाते हुए कहा कि स्विंग होती गेंदों के खिलाफ गंभीरता से अभ्यास नहीं करना भारत को भारी पड़ा। गावस्कर  ने कहा इंग्लैंड के साथ तीन एकदिवसीय वनडे सीरीज में हार के बाद भारतीय टीम को पांच दिन का आराम मिला जिसे खिलाड़ियों ने यूरोप में मस्ती में बिताया। और उस दौरान अभ्यास नहीं करना भारत को भारी पड़ा।


उन्होंने आगे कहा मैं समझ सकता हूं कि एक सीरीज खत्म होने के बाद आराम की जरूरत होती है लेकिन एक ही बार में पांच दिनों के लिए आराम करना और उसके बाद स्विंग होती गेंदों के खिलाफ खेलना कतई आसान नहीं है । यह दो मैचों के बीच में तीन-तीन दिनों का हो सकता है।’

गावस्कर  ने साउथ अफ्रीका के साथ पहले दो मैचों में हार को याद दिलाते हुए कहा अभ्यास मैच खेलना टीम और खिलाडीयों के लिए हमेशा कारगर साबित हुआ  है । उन्होंने अभ्यास मैच में सभी 18 खिलाड़ियों के साथ उतरने की योजना की भी आलोचना करते हुए कहा, ‘उन्हें कम से कम दो तीन दिवसीय मैच खेलने चाहिये थे। 18 खिलाड़ियों के साथ नहीं बल्कि 11 खिलाड़ियों के साथ। उन्हें अभ्यास मैचों को टेस्ट मैच की तरह लेना चाहिए था। उन्होंने साउथ अफ्रीका में भी अभ्यास मैच को रद्द किया और पहले दो मैचों में हार का सामना करना पड़ा था ।


गावस्कर  ने आगे कहा ‘मुझे हमेशा लगता है कि विदेशी हालात में आपको अतिरिक्त बल्लेबाज के साथ उतरना चाहिए । खिलाडियों को खुद पर अच्छा करने का भरोसा होना चाहिए। इसलिए अगले मैच में हमें एक अतिरिक्त बल्लेबाज के साथ उतरना चाहिए। हमें खेल को गंभीरता से लेते हुए मैदान में हर छेत्र में सत प्रतिशत योगदान देनी पड़ेगी और मुझे इस टीम पर पूरा भरोसा है।’

Create Account



Log In Your Account